For the best experience, open
https://m.aajsamaaj.com
on your mobile browser.
Advertisement

बिजली चोरी पकड़ो अभियान: 32 ठिकानों पर छापेमारी कर लगाया 16 लाख का जुमार्ना

08:36 PM May 14, 2022 IST | Sandeep Seksena
बिजली चोरी पकड़ो अभियान  32 ठिकानों पर छापेमारी कर लगाया 16 लाख का जुमार्ना
Advertisement

पुन्हाना, कृष्ण आर्य

Advertisement

बिजली विभाग के एसडीओ अशोक कुमार के नेतृत्व में शनिवार को स्पेशल बिजली चोरी पकड़ो अभियान चलाया गया। दिन निकलने से पूर्व शुरू किये अभियान में कुल 32 निजी अस्पताल, दुकान व मकानों इत्यादि ठिकानों पर छापेमारी की गई। जिनमे लगभग 11 ठिकानों पर बिजली चोरी होती पाई गई।जिनमे अधिकांश व्यावसायिक प्रतिष्ठानों पर बिजली चोरी मिली। जिन पर लगभग सोलह लाख रुपये का जुमार्ना लगाया गया।

प्रदेश भर में चलाया जा रहा बिजली चोरी रोकने का विशेष अभियान : एसडीओ

एसडीओ अशोक कुमार ने बताया कि प्रदेश भर में बिजली चोरी रोकने का विशेष अभियान चलाया जा रहा है। शनिवार को स्पेशल बिजली चोरी पकड़ो अभियान चलाया गया। जिसमें उनके अपने स्टाफ की टीम के अलावा विजिलेंस रिकवरी टीम व पुलिस टीम के साथ छापेमारी अभियान चलाया गया। एसडीओ अशोक कुमार ने बताया कि शनिवार के दिन कुल 32 ठिकानों पर छापेमारी की गई। जिनमे कुल 11 ठिकानों पर बिजली चोरी पाई गई। जिनमे मुख्यत: निजी अस्पतालो में सबसे अधिक बिजली चोरी होना पाया गया।

Advertisement

किसी भी सूरत में बिजली चोरी बर्दाश्त नही

इसके अलावा अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान व घरों में बिजली चोरी मिली। जिन पर करीबन सोलह लाख रुपये बिजली चोरी का जुमार्ना लगाया गया है। एसडीओ ने बताया कि यूं तो शहर व गांवों में लगातार बिजली चोरी पकड़ो अभियान चलाया जा रहा है। जो आगे भी चलता रहेगा। किसी भी सूरत में बिजली चोरी बर्दाश्त नही की जाएगी। उन्होंने लोगो से आह्वान करते हुए कहा कि बिजली चोरी करने से बचें। बिजली का सदुप्रयोग करे। फिजूल में बिजली उपकरण ना चलाये। समय पर बिजली बिलों अदायगी करें। बिजली चोरी करने से लाइन लॉस होता है। जिससे आम उपभोक्ताओं को बिजली की परेशानी झेलनी पड़ती है।

 

ये भी पढ़ें : दोस्त को उतारा मौत के घाट फिर किए टुकड़े, कारण 25 हजार रुपये का लेनदेन

ये भी पढ़ें : बिजली संकट, तीन यूनिटों में उत्पादन बंद, बढ़ी मांग

ये भी पढ़ें : अंबाला में मिले हैंड ग्रेनेड का संबंध भी करनाल में पकड़े आतंकियों से जुड़े

Connect With Us: Twitter Facebook

Advertisement
Tags :
Advertisement
×